Third Party Insurance - थर्ड पार्टी बीमा क्या होता हैं?

Share:

 हैलो दोस्तों, भारत में आजकल गाडियों की चेकिंग बहुत जोरो शोरो से हो रही हैं ऐसे में अगर आपके पास कोई भी Vehicle हैं तो Third Party Insurance के बारे में जरूर जानते होगे | दोस्तों कई बार ऐसा होता हैं हमारे पास गाडी के सभी दस्तावेज होते हैं लेकिन एक गाडी का बीमा न होने की वजह से हमारा चालान हो जाता हैं जिसका चार्ज 2 से 4 हजार तक हो सकता हैं |

रोड पर गाडी चलाते वक़्त आपके वाहन का फर्स्ट पार्टी या सेकंड पार्टी या थर्ड पार्टी बीमा होना अनिवार्य हैं | यह तीनो बीमा के अलग अलग महत्व व कार्य हैं लेकिन बहुत से लोग सिर्फ Vehicle Insurance के लिए Third party Insurance करते हैं क्यूंकि यह बीमा अन्य दो की अपेक्षा काफी सस्ता पड़ता हैं |


Third Party Insurance in Hindi - थर्ड पार्टी बीमा क्या हैं? 

थर्ड पार्टी बीमा यानि Third Party Insurance में आपके वाहन से किसी अन्य वाहन के साथ दुर्घटना होने पर इंश्योरेंस कंपनी किसी तीसरे पक्ष को नुक्सान की भरपाई करेगी वही आपकी गाडी के दस्तावेजो की चेकिंग के दौरान ट्रैफिक पुलिस आपके वाहन बीमा पर चालान नहीं कर सकती |


Third Party Insurance Benefits - थर्ड पार्टी बीमा के लाभ 

  1. इसका Third Party Insurance Premium प्रथम पार्टी व सेकंड पार्टी की तुलना में काफी सस्ता होता हैं |
  2. 1 वर्ष के कार्यकाल के लिए केवल दूसरे के वाहन क्षति और व्यक्तिगत नुकसान को कवर करता है |
  3. दुर्घटना में किसी तीसरे पक्ष के घायल होने या मरने की स्थिति बीमा कंपनी चिकित्सा खर्चों को भी कवर करती है।
  4. किसी भी कानूनी दायित्व, आकस्मिक दायित्व, या किसी दुर्भाग्यपूर्ण घटना के मामले में संपत्ति के नुकसान से बचाता है। 
  5. मोटर वाहन अधिनियम के तहत किसी भी वाहन का Third Party Vehicle Insurance (कम से कम) होने पर उसका वाहन बीमा का चालान नहीं किया जा सकता |

किसी भी वाहन का थर्ड पार्टी बीमा कैसे करे?

दोस्तों अगर आपके पास चाहे दो पहिया वाहन हो या चार पहिया अब आप बिना कही जाए घर बैठे उसका ऑनलाइन बीमा कर सकते हैं | इसके लिए आप पेटीएम, फोनेपे एप्स या पालिसी बाजार से अपनी पसंदीदा vehicle insurance policy का चयन कर सकते हैं, आइये एक उदाहरण से समझते हैं की ऑनलाइन वाहन का बीमा कैसे कर सकते हैं -
  • सबसे पहले अपने मोबाइल में फ़ोन में पेटीएम एप डाउनलोड करे | 
  • उसे इनस्टॉल कर अपने मोबाइल नंबर से अकाउंट रजिस्टर करे |
  • अब Insurance सेक्शन में जाए और दो पहिया के लिए Bike Insurance और चार पहिया के लिए Car Insurance चुने |
  • अगले पेज पर अपने वाहन का Registration Number दर्ज कर Get Quote पर क्लिक करे |
  • ऐसा करते ही आपके वाहन की जानकारी (जैसे Registration year) आपके सामने आएगी Yes It's My Vehicle पर क्लिक कर इसे सत्यापित करे |
  • अब Policy Type में Third Party Insurance चुने और अपने मनमुताबिक Policy Plan ले |
  • आखिर में भुक्तान करे और वाहन की बीमा पालिसी का प्रिंटआउट निकाल ले, वैसे यह आपके रजिस्टर्ड ईमेल पते से भी डाउनलोड कर सकते हैं |


अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न 

थर्ड पार्टी इंश्योरेंस में क्या क्या कवर होता हैं?

थर्ड पार्टी इंश्योरेंस में बीमा कंपनी 1 वर्ष के कार्यकाल के लिए दुसरे के वाहन क्षति और व्यक्तिगत नुक्सान को कवर करता हैं |

थर्ड पार्टी इंश्योरेंस का प्रीमियम कितना होता हैं?

 बीमा कंपनिया दो पहिया और चार पहिया वाहनों के लिए अलग अलग थर्ड पार्टी प्रीमियम पालिसी की पेशकश करती हैं जिसमे आपको स्वेक्षानुसार उनके चयन की स्वतंत्रता होती हैं | 

थर्ड पार्टी का क्लेम कैसे किया जाता हैं?

इसके लिए सबसे पहले आपको एफआईआर दर्ज करनी होती हैं और जिस वाहन के साथ दुर्घटना होती हैं उसका रजिस्ट्रेशन नंबर, दुर्घटना के तुरंत बाद दोनों वाहन की फोटो,  वाहन चालक का लाइसेंस नंबर व अन्य जरूरी प्रक्रिया के तहत वकील के माध्यम से केस दर्ज करना होगा |

No comments