ब्लॉगिंग के लिए खुद को मोटीवेट कैसे करे? 10 टिप्स हिंदी में

Share:
दोस्तों ब्लॉगिंग करना बहुत आसान है लेकिन एक सक्सेसफुल ब्लॉगर बनना बहुत कठिन हैं इसके लिए आपको बहुत सारी मेहनत और ज्ञान की जरुरत होती है | अगर आप भी ब्लॉगिंग करने जा रहे है तो मैं आपको बता दू इस फील्ड में आने से पहले द्रण निश्चय कर ले की आपको सिर्फ ब्लॉगिंग को सिर्फ पार्ट टाइम में नहीं करना है इसको करने के आपको अतिरिक्त समय देना होगा |
ब्लॉगिंग की शुरूआती चरणों में देखा गया है की लोग ब्लॉग को बहुर तैयारी के साथ शुरू करते है और कुछ दिनों बाद ही ब्लॉग पोस्ट करना कम कर देते है और धीरे धीरे वो ब्लॉगिंग करना छोड़ देते है |

अन्य कारणों से देखा गया है ब्लॉग पर सर्च इंजन से कम ट्रैफिक आने के कारण लोगो की रूचि कम हो जाती है | जिस वजह से ब्लॉग में काम करना कम हो जाता है और दूसरो की तरह वो भी बंद हो जाता है |

blogging motivation

एक अच्छा ब्लॉगर बनने के लिए आपको तमाम परेशानियो से दूर हटना होगा और अपने किस्मत से ज्यादा काम पे ध्यान देना होगा | इस पोस्ट में आपको बताउगा की ब्लॉगिंग के लिए खुद को मोटीवेट कैसे करे ?

ब्लॉगिंग के लिए खुद को मोटीवेट कैसे करे ?

अभी तक तो आप समझ ही गए हो ब्लॉग को लम्बे समय तक चलाना कितना कठिन होता है और ऐसा नहीं है की और फील्ड में आपको कम मेहनत करनी पड़ेगी | आप चाहे जो भी फील्ड चुनेगे उसमे आपको भरपूर मेहनत करने की आवश्यकता हैं | आज के इस प्रतियोगी युग में हर कोई एक दुसरे को पीछे करने में लगा है इसलिए आपको भी किसी तरह लाइन में आगे ही रहना है जिसके लिए आपको अपने काम को पूरा मन लगाकर करना होगा | समय रहते आप ये कर लेते है है तो आप जीवन में काफी आगे जायेगे और खूब पैसा कमायेगे साथ ही आप ये भी जान जायेगे की ऑनलाइन पैसा कैसे कमाए जाते है |



ब्लॉगिंग के लिए खुद को मोटीवेट करने के आसान टिप्स 

ब्लॉगिंग शुरू करने से पहले आपको कुछ बातो का ख़ास तौर पर ध्यान देना होगा जो की आपको काम करने के तरीके को रुचिकर बनाने में मदद करेगी -

1. अपने काम पर पूरा ध्यान लगाये 

प्रायः देखा गया है लोग किसी काम को बस करते रहते है वो भी बिना किसी रूचि के जिस वजह से वे अपने काम पर पूरा ध्यान केन्द्रित नहीं कर पाते है |

ऐसे लोगो से मेरे यही कहना है की जब भी किसी काम को करे तो उसपर अपना पूरा ध्यान लगाये, अगर आपका खुद का ब्लॉग है तो उस पर काम करते समय केवल उसपर रोज काम करने पर अपना ध्यान लगाये रखे |

2. ब्लॉगिंग करना कभी ना छोड़े 

मैं इस बात पर पूरा यकीन रखता हु की एक सक्सेसफुल ब्लॉगर बनने के बाद या ब्लॉग ना चलने के बाद लोग ब्लॉगिंग छोड़ देते है जो की आपके नीचे गिरने की पहली सीढ़ी है | मैं आपको खुद का अनुभव बता रहा हु की मैं भी कभी ब्लॉगिंग छोड़ने के बारे में सोचता रहता था लेकिन जब मैं लगातार काम करते गया तो मेरे ब्लॉग पर भी ट्रैफिक आने लगा और उस दिन से मैंने कभी पीछे मुड़ कर नहीं देखा |
नए ब्लोग्गेर्स से मेरे यहीं कहना है की लगातार पोस्ट करते रहे ट्रैफिक आये चाहे ना आये, कई लोग को मैंने सुना है कमेंट्स में भी पढ़ा है की मैंने 40 या उससे अधिक पोस्ट कर रखी है फिर भी मेरे ब्लॉग में यूजर कम आते है तो ऐसे लोगो से मेरे यही कहना है की धैर्य रखे और एक ना एक दिन मेरे ब्लॉग पर भी बहुत से लोग आयेगे ये सोचकर पोस्ट करते रहे |


3. Keyword Planner व SEO के बारे में पता करे 

बहुत से लोग लम्बे समय तक ब्लॉग ना चला पाने का व जल्दी demotivate हो जाने का कारण उनकी अधूरी जानकारी होती है क्युकी किसी भी गूगल पे आने वाली वेबसाइट की को आधार बनाकर उसमे लिखी गई सामग्री को पढ़कर अपने ब्लॉग में पोस्ट करते हैं जो की गलत है | 


आपको शायद ना पता हो की keyword planner गूगल का एक हिस्सा है जिसमे आप पोस्ट करने से पहले low competition वाले शब्दों का चयन कर सकते है और आपने ब्लॉग को कम समय में search engine में ऊपर ला सकते है |

SEO के बारे में शायद आपने सुना ही होगा अगर नहीं सुना है तो मैं बता दू की इसका मतलब होता हैं search engine optimization जिसमे तहत वेबसाइट को ऊपर लाने का प्रयास किया जाता है | अगर आप ये दो चीज ढंग से सीख जाते है तो आपका ब्लॉग कम से कम समय में अच्छे पैसे देने लगेगा और हर पोस्ट पे अच्छा ट्रैफिक मिलेगा |

4. काम ना करने के बहानो से बचे 

पहले मैं भी हर रोज़ पोस्ट करने से बचता रहता है अपने आप एक ना एक बहाना तैयार कर लेता था और उस दिन काम नहीं करता था जो की एक बहुत बड़ी कमी है | ब्लॉगिंग के लिए खुद को मोटीवेट करने के लिए काम में कुछ ना कुछ बदलाव लाते रहे व demotivate करने वाले कारणों से दूर रहे |

5. कुछ नया करने की कोशिश करो 

हम जब भी किसी काम को बार बार करते है तो हम जल्द बोर हो जाते है और धीरे धीरे demotivate होने लगते है ऐसे में हमें अपने कार्य शैली में बदलाव की जरुरत होती है |

एक ब्लॉगर को हमेशा एक ही तरह की पोस्ट नहीं करनी चाहिए हमेशा अलग अलग विषय पर पोस्ट लिखनी चाहिए ऐसा करने से हमारे कार्य के प्रति रूचि बनी रहती है है और कुछ नया करने को भी मिलता रहता है |

6. काम कम लेकिन अच्छा करे 

ब्लॉगिंग के शुरूवाती दिनों में लोग अक्सर यही गलतिया करते है की एक दिन में ब्लॉग को ऊपर उठाना या जल्द से जल्द पैसे कमाने के चक्कर में बहुत सारी पोस्ट करना शुरू कर देते है जिसमे वो लिखी गई सामग्री पर बिलकुल ध्यान नहीं दे पाते है और जब भी हम बहुत काम करते है तो गलतिया होनी तो बनती है |

ऐसे में आपको ध्यान देने की जरुरत है की काम भले कम हो लेकिन अच्छा हो जिससे आपको दो फायदे होगे पहला ये की आपका ब्लॉग जल्द Search Engine में rank करने लगेगा और दूसरा ये की आपके blog readers की संख्या बढती जायेगी |

7.ब्लॉगिंग को पैशन के तौर पर करिए 

आजकल बहुत से ऑनलाइन पैसे कमाने के चक्कर में ब्लॉगिंग की दुनिया में आ जाते है लेकिन बहुत जल्द हताश भी हो जाते है क्युकी उन्हें ये नहीं पता होता हैं की ब्लॉग से पैसे कैसे कमाए? बगैर पैशन के ब्लॉग को लम्बे समय तक चलाना बहुत मुश्किल है और उससे पैसे कमाना तो बहुत ही मुश्किल है | अगर आपके अन्दर पैशन है तो आप अपने ब्लॉग के एक नयी ऊचाइयो पर ले जा सकते है |

8.पैसे कमाने के चक्कर में ना पड़े 

बहुत से ब्लॉगर यही सोच कर ब्लॉग शुरू करते हैं की इससे बहुत सारे पैसे कमाने हैं इसी के चक्कर में वो ब्लॉगिंग पैसे के लिए करने लगते है | वे केवल उसी तरह के पोस्ट करते है जिससे ज्यादा से ज्यादा पैसे कमा सके |


ज्यादा high keyword को चुनने से नया ब्लॉग ऊपर नहीं आ पता और पैसे नहीं दे पता | आखिर में थक हार कर लोग ब्लॉगिंग छोड़ देते है इसलिए मेरा यही सुझाव है की ब्लॉगिंग शौक के लिए करिए पैसे के लिए नहीं |


9.ब्लॉगिंग टिप्स पढो और दुसरे ब्लोग्स से सीखो 

Demotivate होने से बचने के लिए हमेशा ब्लॉगिंग टिप्स पड़ते रहो जिससे आपको कुछ ना कुछ सीखने को मिलता रहेगा | व्यूज कम मिलने के कारण हम काम करना कम कर देते हैं इसलिए काम करना कभी ना छोड़े |

एक ब्लॉगर को हमेशा अपने ब्लॉग के अलावा दुसरे ब्लोग्स पर भी एक नज़र रखनी चाहिए इससे आपको सीखने के अलावा काम करने के प्रति मोटिवेशन भी मिलती रहेगी और अपने competitors की जानकारी भी मिलती रहेगी |


10. एक साथ कई काम ना करे 

मैंने बहुत से लोगो को देखा है कि जब उनका एक ब्लॉग चलने लगता है तो वो दुसरे कामो पर ज्यादा ध्यानं देने लगते है क्युकी एक जगह से पैसे आने के कारण वो उसमे अपनी रूचि कम कर देते है |

ऐसे लोगो से मेरा यही कहना है की आपको सबसे पहले एक काम पर फोकस करना होगा और दुसरे काम करने के साथ साथ पहले कार्य को भी पर्याप्त समय देना होगा इससे वो सक्सेसफुल होने के साथ परिपक्व भी हो जायेगे |

No comments